उत्तरप्रदेश में मुख्यमंत्री द्वारा किसानों के लिए नई योजनाओं की शुरुआत

January 30, 2018 | Last Modified: January 30, 2018 at 11:11 am | Category: सरकारी योजनाएं हिंदी में 2018-19

उत्तरप्रदेश राज्य सरकारने किसानों के लिए नई कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत करने की तैयारी की है। इन योजनाओं का लाभ किसानों के परिवार, बच्चों व कृषि संबंधित समस्याओं के निवारण हेतु प्रदान किये जाएंगे। इन योजनाओं का उद्देश्य राज्य के पंजीकृत गरीब किसानों को लाभ प्रदान करना है। इन योजनाओं के नियम-कायदों में इस तरह से परिवर्तन के प्रस्ताव तैयार किए गए हैं, जिससे अधिकाधिक किसान परिवारों को इनका लाभ मिल सके। मंडी समिति के इस प्रस्ताव पर सरकार ने सहमति दे दी है। औपचारिक घोषणा फरवरी में पेश किए जाने वाले बजट में होगी।

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी जी ने किसानों के लिए निम्न योजनाओं को लागू करने की परियोजना बनाई है।

  • मुख्यमंत्री कृषक कल्याणकारी योजना
  • मुख्यमंत्री दुर्घटना सहायता योजना
  • खेत-खलिहान अग्निकांड दुर्घटना सहायता योजना
  • कृषक उपहार योजना
  • कृषि छात्रवृत्ति योजना इत्यादि।

सरकार द्वारा योजना के तहत, आग से फसल जलने पर किसानों को अब पहले से अधिक मुआवजा प्रदान किया जाएगा। हालांकि, इसकी गणना वास्तविक नुकसान के आधार पर होगी। योजना के अंतर्गत, किसान के नुकसान का आकलन जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित कमेटी द्वारा किया जाएगा।

इन योजना के तहत किसान की एक हेक्टेयर फसल जलने पर अधिकतम 30 हजार रुपये, 1-2 हेक्टेयर फसल जलने पर अधिकतम 40 हजार रुपये और उससे ज्यादा फसल जलने पर अधिकतम 50 हजार रुपये मुआवजा प्रदान किया जाएगा। रकबे के हिसाब से तय की गई अधिकतम राशि या वास्तविक नुकसान में से जो कम होगा, उतनी राशि का भुगतान किसान को किया जाएगा।

यूपी में मुख्यमंत्री कृषक कल्याणकारी योजना के तहत किसानों को कृषि संबंधित सभी जानकारी व सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी। इसके साथ ही, राज्य सरकार मुख्यमंत्री दुर्घटना सहायता योजना के अंतर्गत, राज्य के पंजीकृत किसानों को दुर्घटना होने पर आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

खेत-खलिहान अग्निकांड दुर्घटना सहायता योजना के द्वारा उत्तरप्रदेश सरकार उन किसानों को लाभ प्रदान किया जाएगा, जिनकी फसल आग के द्वारा नष्ट हो गई है। उनको सरकार मुआवजे के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। उत्तरप्रदेश कृषि छात्रवृत्ति योजना के तहत पंजीकृत किसानों के स्कूल/ कॉलेज में अध्ययन कर रहे बच्चो को शिक्षा प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।

Related Content