संगवारी योजना छत्तीसगढ़ – नगर निगम द्वारा 300 महिलाओं को रोज़गार प्रशिक्षण

January 8, 2018 | Last Modified: January 8, 2018 at 3:06 pm | Category: सरकारी योजनाएं हिंदी में 2018-19

छत्तीसगढ़ में नगर निगम द्वारा 300 महिलाओं को रोज़गार प्रशिक्षण के लिए “संगवारी योजना” का शुभारम्भ किया है। इस योजना के तहत रोज़गार प्रशिक्षण में महिलाओं को घर में कामों का प्रशिक्षण दिया जाएगा, जिसके अंतर्गत, महिलाओं को झाड़ू, पोछा लगाने, वाशिंग मशीन व वेक्यूम क्लीयर चलाने और फ्रिज साफ करना आदि सिखाया जाएगा। इसके साथ ही, चयनित महिलाओं का पुलिस वेरिफिकेशन भी करवाया जाएगा। योजना के तहत प्रशिक्षण समाप्त होने के बाद, नगर निगम एक टेलीफोन नंबर भी जारी करेगा।

बाई का काम करने वाली महिलाओं को एक दो घर से पर्याप्त आमदनी नहीं होती। दोनों तरफ की समस्या को देखते हुए नगर निगम ने एक नई पहल की है। स्वरोजगार कार्यक्रम के तहत महिलाअों को बाई के काम का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसमें घरेलू कामकाज के अलावा घर के उपकरण चलाना व उनकी सफाई करना सिखाया जाएगा। प्रशिक्षित करने के बाद निगम इन महिलाओं का पुलिस वेरिफिकेशन कराएगा। इसमें उनके पूरे परिवार, निवास स्थान से संबंधित जानकारी पुलिस एकत्रित करेगी।

सारी औपचारिकता करने के बाद निगम एक फोन नंबर जारी करेगा। जरूरतमंद व्यक्ति के फोन करने पर उसके मकान के आसपास रहने वाली प्रशिक्षित बाई को अगले दिन ही भेज दिया जाएगा। दक्ष होनेे के कारण इनका वेतन सामान्य बाई से कुछ ज्यादा होगा। हालांकि लोग इन्हें काम में रखकर सुरक्षित रहेंगे। इस तरह दोनों को फायदा है। बाई का काम करने वाली गरीब परिवार की महिलाओं को पर्याप्त वेतन नहीं मिलता है। उनके लिए घर चलाना भी मुश्किल हो जाता है।

Related Content