मुख्यमंत्री फ्री तीर्थ यात्रा योजना दिल्ली ऑनलाइन आवेदन एवं पूरी जानकरी

December 5, 2018 | Last Modified: December 5, 2018 at 1:22 pm | Category: Application Forms, Delhi Government Schemes

अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली में रहने वाले बुजुर्गों (वरिष्ठ नागरिक) के लिए मुख्यमंत्री फ्री तीर्थ यात्रा योजना के ऑनलाइन आवेदन प्राप्त करने के लिए पोर्टल लांच किया है। दिल्ली सरकार ने इस योजना घोषणा पिछले वर्ष की थी लेकिन कुछ कारणों के वजह से दिल्ली मुख्यमंत्री मुफ्त यात्रा योजना के ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए पोर्टल लांच नहीं कर पायी थी।

दिल्ली में निवास करने वाले जो भी बुजुर्ग इस योजना के लिए पात्र हैं और यात्रा पर जाना चाहते हैं तो वो इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। योजना में पहले आओ पहले पाओ के आधार पर चयन होगा, हर एक यात्रा में अधिकतम 1000 लोग शामिल होंगे। जो भी वरिष्ठ नागरिक मुख्यमंत्री फ्री तीर्थ यात्रा ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो निचे दी गयी प्रक्रिया का अनुसरण कर सकते हैं या फिर ई-डिस्ट्रिक्ट केंद्र और विधायक के कार्यालय में जाकर भी पंजीकरण करा सकते हैं।

इस यात्रा के दौरान दिल्ली सरकार ने डॉक्टरों के टीम, पैरामेडिकल स्टाफ के अलावा तीर्थ विकास समिति की और से प्रत्येक बोगी में दो-दो वालंटियर्स की व्यवस्था की है। अगर किसी यात्री की उम्र ७० साल से अधिक है तो वह अपने साथ एक सहयोगी ले जा सकते हैं।

कहाँ-कहाँ की यात्रा कर सकेंगे ?

आइये जानते हैं की दिल्ली सरकार मुख्यमंत्री फ्री यात्रा योजना के माध्यम किन-किन धार्मिक स्थलों की सैर कराएगी:-

  • वैष्णो देवी का पांच दिन का ट्रिप होगा।
  • अमृतसर-बाघा बॉर्डर-आनंदपुर साहिब का ट्रिप भी पांच दिन का होगा।
  • इसके अलावा मथुरा-वृन्दावन-अगर-फतेहपुर सीकरी, हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ और पुष्कर-अजमेर के चार-चार दिनों के ट्रिप हैं।
  • इस पूरी यात्रा पर ८५०० रूपए का खर्च आएगा जिसको दिल्ली सरकार उठाएगी।
  • वैष्णो देवी का पांच दिन का ट्रिप।
  • अमृतसर-वाघा बार्डर-आनंदपुर साहिब का ट्रिप भी पांच दिन का होगा।
  • इसके अलावा मथुरा-वृंदावन-आगरा-फतेहपुर सिकरी, हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ और पुष्कर-अजमेर के चार-चार दिनों के ट्रिप हैं।

दिल्ली मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के लिए ये जरूरी:-

  • आवेदक की उम्र 60 साल या इससे अधिक होनी चाहिए
  • आवेदन करने वाला दिल्ली का मूल निवासी होना चाहिए
  • स्वास्थ्य जांच का प्रमाण पत्र लगेगा
  • आवेदक के पास मतदाता पहचान पत्र होना जरूरी है
  • पंजीकरण के साथ शपथ पत्र देना होगा जो की यह सत्यापित करेगा की सभी सूचना सही है।
  • स्थानीय विधायक का प्रमाण पत्र।

आशा करते हैं की आपको मुख्यमंत्री फ्री तीर्थ यात्रा योजना दिल्ली के बारें में हमारे द्वारा दी गयी जानकरी से आप संतुष्ट हुए होंगे फिर भी अगर इस योजना के बारें में अगर आपको कुछ भी पूछना हो तो आप हमें निचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Related Content