छत्तीसगढ़ पुनर्वास योजना – आत्मसमर्पित नक्सलियों को 100 मकानों की कॉलोनी बनाने के लिए

January 11, 2018 | By Lekhraj | Filed in: सरकारी योजनाएं हिंदी में 2019-20.

छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह जी ने आत्मसमर्पित नक्सलियों को 100 मकानों की कॉलोनी बनाने की परियोजना बनाई है। इस योजना के तहत राज्य के सुदूरवर्ती और अंतिम छोर के नक्सल प्रभावित विकासखंड और जिला मुख्यालय सुकमा में बस स्टैंड विस्तारीकरण के लिए चार करोड़ रूपए मंजूर करने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री जी ने बताया कि बीजापुर जिले के विकासखंड और तहसील मुख्यालय भोपालपट्नम में अंतर्राज्यीय बस स्टैंड निर्माण के लिए भी सैद्धांतिक सहमति प्रदान कर दी है।

मुख्यमंत्री ने सुकमा से लगे हुए ग्रामीण क्षेत्र में आत्मसमर्पित 100 नक्सलियों के लिए पुनर्वास योजना के तहत आवासीय कॉलोनी बनवाने का भी ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि इसके लिए प्रति मकान एक लाख रूपए बस्तर एवं दक्षिण क्षेत्र आदिवासी प्राधिकरण से मंजूर किए जाएंगे और जिला खनिज न्यास निधि (डीएमएफ) से 75 हजार रुपए के मान से अनुदान की राशि भी दी जाएगी। इसमें से 15 हजार रुपए शौचालय निर्माण के लिए होंगे।

उन्होंने कहा है कि इसके लिए प्रति मकान एक लाख रूपए बस्तर एवं दक्षिण क्षेत्र आदिवासी प्राधिकरण से मंजूर किए जाएंगे और जिला खनिज न्यास निधि (डीएमएफ) से 75 हजार रूपए के मान से अनुदान की राशि भी दी जाएगी। इसमें से 15 हजार रूपए शौचालय निर्माण के लिए होंगे। डॉ. सिंह ने सुकमा में प्रधानमंत्री आवास योजना के 668 हितग्राही परिवारों को एक महीने के भीतर पट्टा दिलाने का भी आश्वासन दिया। उन्होंने इसके लिए कलेक्टर को त्वरित कार्रवाई के निर्देश दिए।


Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Content