छत्तीसगढ़ निःशुल्क कानूनी सहायता योजना – विश्व एड्स दिवस पर लोगों को जागरूक करने के लिए

December 2, 2017 | By Lekhraj | Filed in: सरकारी योजनाएं हिंदी में 2019-20.

छत्तीसगढ़ में 1 दिसंबर, 2017 को विश्व एड्स दिवस पर जिला चिकित्सालय सूरजपुर में जागरूकता शिविर का आयोजन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा किया गया। शिविर में व्यवहार न्यायाधीश पुनीत राम गुरूपंच व व्यवहार न्यायाधीश आलोक पाण्डेय तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एसपी वैश्य, शिविल सर्जन डॉ. शशि तिर्की, एड्स नोडल अधिकारी डॉ. उत्तम सिंह, डीआईओ डॉ. आरएस सिंह व अन्य चिकित्सकों ने लोगों को एड्स को लेकर जागरूक किया।

न्यायाधीश पुनीत राम गुरूपंच ने अपने संबोधन में कहा कि हमें रोग से घृणा करना चाहिए रोगी से नहीं, वैसे ही हमें अपराध से घृणा करनी चाहिए,अपराधी से नहीं। हमारे भारत मे सभी को समाज में रहने, परम्पराओं का संचालन करने व समान रूप से जीने का अधिकार प्राप्त है। इसी क्रम में आलोक पाण्डेय ने बताया कि एड्स एक ऐसी बीमारी है, जिसका इलाज एड्स की जानकारी है।

न्यायाधीश पुनीत राम गुरूपंच ने अपने संबोधन में कहा कि हमें रोग से घृणा करना चाहिए रोगी से नहीं, वैसे ही हमें अपराध से घृणा करनी चाहिए,अपराधी से नहीं। हमारे भारत मे सभी को समाज में रहने, परम्पराओं का संचालन करने व समान रूप से जीने का अधिकार प्राप्त है। इसी क्रम में आलोक पाण्डेय ने बताया कि एड्स एक ऐसी बीमारी है, जिसका इलाज एड्स की जानकारी है।

विश्व एड्स दिवस के अवसर जिला चिकित्सालय परिसर से हरी झंडी दिखाकर जागरूकता रैली को रवाना किया जो मुख्य मार्ग से कलेक्टर कार्यालय से वापस सेन्ट्रल बैंक भैयाथान रोड से वापस जिला चिकित्सालय मे समाप्त किया। शिविर मे एड्स बीमारी के विषय पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था जिसमें कई स्टाफ नर्सों ने भाग लेकर एड्स पर जानकारी दी व प्रतियोगिता में विजेताओं को प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।


Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Content