छत्तीसगढ़ अन्न सहायता योजना – श्रमिकों को काम के दौरान निःशुल्क भोजन प्रदान के लिए

January 17, 2018 | By Lekhraj | Filed in: सरकारी योजनाएं हिंदी में 2019-20.

छत्तीसगढ़ में श्रमिकों को काम के दौरान निःशुल्क भोजन प्रदान के लिए “दीनदयाल उपाध्याय अन्न सहायता योजना” के स्थान पर ‘अन्न सहायता योजना’ की शुरुआत कर दी है। इस अन्न सहायता योजना के तहत श्रमिकों को काम के साथ भोजन की व्यवस्था मुहैया करवाई जाएगी। इस योजना के अंतर्गत, राज्य के केवल पंजीकृत श्रमिकों को लाभ प्रदान किया जाएगा। राज्य व केंद्र सर्कार द्वारा संचालित योजनाओं को श्रमिकों के हितों को ध्यान में रखते हुए शुरू की गई है, लेकिन इन योजनाओं का लाभ श्रमिकों को नहीं मिल पा रहा है।

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा मजदूरों के हितों को ध्यान में रखकर “दीनदयाल अन्न सहायता योजना” शुरू की गई, ताकि श्रमिकों को काम करने के दौरान निःशुल्क भोजन की सुविधा प्रदान की जा सके। इस योजना का लाभ जरूरतमंद मजदूरों को नहीं मिल पा रहा है। जांजगीर जिले में संगठित क्षेत्र के मजदूरों की संख्या 70 हजार 230 है तो वही असंगठित क्षेत्र के मजदूरों की संख्या 40 हजार 150 है तथा जिले में पंजीकृत मजदूरों की संख्या 1 लाख 10 हजार 380 है।

श्रमिक विभाग में जाकर अपना पंजीयन करा चुके है, वे शासन की योजना का लाभ ले सकते है। अन्न सहायता योजना के तहत एक ही छत के नीचे 2 हजार से अधिक को योजना का दिया जाना है , ताकि काम करने के बाद भोजन की सुविधा मिल सके। इसके लिए श्रमिकों को चावल, दाल, सब्जी व आचार दिया जाना है। इस संबंध में जिला श्रम पदाधिकारी बीआर पटेल का कहना है कि पंजीकृत श्रमिकों को अन्न सहायता योजना का लाभ दिया जाना है।


Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Content