आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना मध्यप्रदेश – बेरोज़गार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए

January 5, 2018 | Last Modified: January 5, 2018 at 3:47 pm | Category: सरकारी योजनाएं हिंदी में 2018-19

मध्यप्रदेश सरकार ने बेरोज़गार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए “आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन योजना 2018” का शुभारम्भ किया जा रहा है। इस योजना के तहत नवयुवकों को रोजगार उपलब्ध कराने तथा दुग्ध उत्पादन में वृद्धि करने के उद्देश्य से ऐसे युवाओं को जिनके पास 1 एकड़ न्यूनतम कृषि भूमि हो पशु पालन कर रहे हैं। इस योजना के अंतर्गत, बेरोज़गार युवक 5 से 10 दुधारू पशु गाय या भैंस बैंक से ऋण स्वीकृत कराकर डेयरी व्यवसाय शुरु कर सकते हैं।

इस गौ संवर्धन योजना 2018 के तहत इकाई की अधिकतम सीमा राशि 10 लाख रुपए है। जिसमें मार्जिन मनी सहायता के रुप में इकाई लागत का 25 प्रतिशत सामान्य वर्ग के लिए अधिकतम (1.50 लाख) तथा अनुसूचित-जनजाति के लिए 33 प्रतिशत अधिकतम (2 लाख) रुपए प्रदाय की जाएगी। योजना के तहत बैंक से प्राप्त ऋण पर 5 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की दर से (अधिकतम 25 हजार रुपए प्रतिवर्ष) ब्याज की प्रतिपूर्ति 7 वर्षों तक विभाग द्वारा प्रदान की जाएगी।

योजना के तहत बाकि राशि/ ब्याज हितकारी स्वयं प्रतिपूर्ति करेगा। योजना का जो पशु पालक लाभ प्राप्त करना चाहते हो वे नजदीकी पशु चिकित्सा संस्था या कार्यालय दमोह में संपर्क कर प्राप्त कर सकते हैं। उक्त योजना का जो पशु पालक लाभ प्राप्त करना चाहते हो वे नजदीकी पशु चिकित्सा संस्था या कार्यालय दमोह में सम्पर्क कर प्राप्त कर सकते हैं। उपसंचालक पशुपालन डॉ. विश्वकर्मा ने बताया यह आवेदन जनवरी 2018 तक जमा किये जा सकते हैं।

Related Content